written by khatabook | July 30, 2021

टैली ERP 9 में जीएसटी इनवॉइस को जेनरेट, प्रिंट और कस्टमाइज़ कैसे करें?

भारत में जीएसटी पंजीकरण प्राप्त करने वाले किसी भी प्रदाता को माल या सेवाओं की आपूर्ति करते समय एक इनवॉइस जारी करना होगा। आप जीएसटी नियमों के अनुसार उचित फॉर्मेट में टैली जीएसटी इनवॉइस का उपयोग कर सकते हैं।

इस प्रकार प्राप्तकर्ता को आपूर्ति के लिए उत्पादों या प्राप्तकर्ता को सेवाओं से संबंधित कोई भी व्यवसाय लेन-देन केवल प्राप्तकर्ता को जीएसटी इनवॉइस जारी करके किया जा सकता है, भले हीं प्रदाता ऑनलाइन या ऑफलाइन का व्यवसाय करता हो।

टैली में जीएसटी टैक्स इनवॉइस क्या है?

इनवॉइस बिक्री प्रक्रिया का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। यह प्राथमिक दस्तावेज है, जो आपकी कंपनी द्वारा बेची जाने वाली सेवाओं या उत्पादों के बिल के रूप में काम करता है।

प्रत्येक जीएसटी इनवॉइस में कौन सी जानकारी शामिल होनी चाहिए?

टैली जीएसटी इनवॉइस में निम्नलिखित जानकारी शामिल होनी चाहिए:

1. आपूर्तिकर्ता यानि सप्लायर का नाम, पता और GSTIN (गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स आइडेंटिफिकेशन नंबर) का विवरण।

2. एक या अधिक श्रृंखला में 16 वर्णों या उससे कम की इनवॉइसक्रम संख्या जिसमें अक्षर या अंक या कोई अद्वितीय वर्ण जैसे स्लैश या डैश शामिल हैं, जहाँ स्लैश को क्रमशः "/" और डैश को "-" के रूप में दर्शाया गया है और को ई भी उसके अनुसार बनाया गया संयोजन, विशेष रूप से एक वित्तीय वर्ष के लिए।

3. जिस तारीख को यह जारी किया गया था।

4. प्राप्तकर्ता का नाम, पता, और यदि पंजीकृत है, तो माल और सेवा कर पहचान संख्या यानि गुड्स  एंड सर्विसेज टैक्स आइडेंटिफिकेशन नंबर या यूनिक आइडेंटिटी नंबर। 

  1. यदि खरीददार अपंजीकृत है और कर योग्य आपूर्ति का मूल्य 50,000 रुपये या अधिक है, तो प्राप्तकर्ता का नाम और पता, वितरण का पता, और राज्य का नाम और उसका कोड दिया जाना चाहिए।
  2. मान लीजिए कि रिसीवर यानि प्राप्तकर्ता अपंजीकृत है और कर योग्य आपूर्ति का मूल्य 50,000 रुपये से कम है और प्राप्तकर्ता मांग करता है कि इस तरह के विवरण टैक्स इनवॉइस में दर्ज किए जाएं। उस स्थिति में माल के लिए HSN सिस्टम कोड और सेवाओं के लिए सेवा लेखा कोड यानि सर्विस अकाउंटिंग कोड, प्राप्तकर्ता का नाम और पता, और राज्य का नाम और उसका कोड दर्ज किया जाना चाहिए।

5. उत्पाद या सेवा विवरण

  1. कमोडिटी, क्वांटिटी या यूनिक क्वांटिटी कोड के मामले में

6. आपूर्ति किए गए उत्पादों या सेवाओं का कुल मूल्य या दोनों

7. किसी छूट या घटाव के बाद माल या सेवाओं या दोनों के प्रावधान का कर योग्य मूल्य।

8. कर की दर जैसे सीजीएसटी /एसजीएसटी /आईजीएसटी/यूटीजीएसटी या सेस 

9. कर योग्य उत्पादों या सेवाओं पर लगाए गए कर की राशि सीजीएसटी/एसजीएसटी/आईजीएसटी/यूटीजीएसटी और सेस।

10. राज्य के भीतर की गई आपूर्ति के मामले में, व्यापार या वाणिज्य, आपूर्ति की जगह और राज्य का नाम जोड़ा जाना चाहिए।

11. जहाँ डिलीवरी का पता आपूर्ति की जगह से भिन्न होती है। 

12. रिवर्स चार्ज के आधार पर टैक्स लगाया जाता है या नहीं तथा

13. आपूर्तिकर्ता या उसके अधिकृत प्रतिनिधि के हस्ताक्षर या डिजिटल हस्ताक्षर

टैली में इनवॉइसिंग के लिए बिक्री के प्रकार और लेजर बनाना 

बिक्री दो प्रकार की होती है -

1. स्थानीय या लोकल बिक्री जो CGST और SGST/UTGST के अंतर्गत हैं

2. अंतर्राज्यीय यानि इन्टर स्टेट बिक्री जो IGST के अंतर्गत है

जीएसटी इनवॉइस बनाने के लिए टैली में सेल्स एंट्री जनरेट करने से पहले सेल्स लेज़र बनाया जाना चाहिए। 

खाता का नाम

के अंतर्गत

विवरण

स्थानीय बिक्री/अंतरराज्यीय  बिक्री

बिक्री खाते

इंट्रास्टेट सेल्स एंट्री के लिए

इंटर स्टेट सेल्स

बिक्री खाते

इंटरस्टेट सेल्स एंट्री के लिए

सीजीएसटी,एसजीएसटी/यूटीजीएसटी, आईजीएसटी

शुल्क और कर

सीजीएसटी और एसजीएसटी/यूटीजीएसटी लेजर का उपयोग अंतर्राज्यीय बिक्री के मामले में किया जाएगा। अंतर-राज्यीय बिक्री के लिए IGST खाता बही का चयन किया जाएगा

 

वस्तु का नाम

 

एक इन्वेंटरी आइटम बनाना   और इन्वेंटरी वाउचर का  उपयोग करना

निम्न विवरणों को शामिल करके वस्तुओं और सेवाओं को व्यवस्थित करें

  • आइटम का विवरण
  • वस्तुओं और सेवाओं के लिए HSN/SAC कोड विवरण
  • जीएसटी कर वर्गीकरण
  • कहाँ से लागू हुआ 
  • क्या वे गैर-जीएसटी सामान हैं?
  • करयोग्यता और कर की दर
  • क्या रिवर्स चार्ज लागू है;
  • कर के प्रकार: आईजीएसटी/सीजीएसटी/एसजीएसटी/सेस

पार्टी का लेजर

सन्ड्री डेटर के तहत 

पार्टी खाते के तहत उल्लेख करें कि क्या रिसीवर एक समग्र यानि कंपोजिट डीलर, उपभोक्ता, पंजीकृत या अपंजीकृत डीलर है।

टैली में GST इनवॉइस कैसे जनरेट करें और ERP 9 क्या है?

टैली में चालान-प्रक्रिया के लिए अनुसरण किए जाने वाले चरण यहाँ दिए गए हैं:

टैली गेटवे > अकाउंटिंग वाउचर (नेविगेशन कुंजियों का उपयोग करके - ऊपर/नीचे, बाएँ/दाएँ एरो यानि तीर)

शॉर्टकट - टैली गेटवे से > अकाउंटिंग वाउचर बुक तक पहुंचने के लिए, कीपैड पर अक्षर V का उपयोग करें।

आपको इन चरणों का अवश्य पालन करना चाहिए:

चरण 1

टैली गेटवे पर नेविगेट करें > अकाउंटिंग वाउचर > F8 सेल्स। इनवॉइस नंबर के बगल में बिल का सीरियल नंबर लिखें, ऊपर उल्लिखित इनवॉइसिंग आवश्यकताओं का सख्ती से पालन करें।

चरण 2

पार्टी खाता नाम यानि पार्टी अकाउंट नेम कॉलम में पार्टी लेज़र या कैश लेज़र का चयन करें। ध्यान दे : यदि पार्टी लेज़र का उपयोग किया जाता है और प्राप्तकर्ता एक पंजीकृत डीलर है, तो उत्पाद यानि प्रोडक्ट के सटीक जीएसटी डेटा को शामिल करना महत्वपूर्ण है।

चरण 3

उपयुक्त बिक्री खाता बही यानि सेल्स लेजर चुनें। ध्यान दे: यदि बिक्री स्थानीय यानि लोकल है, तो स्थानीय कर योग्य बिक्री के लिए बिक्री खाता बही चुनें; यदि यह अंतरराज्यीय यानि इन्टर स्टेट है, तो अंतरराज्यीय बिक्री के लिए बिक्री खाता बही चुनें।

 

चरण 4

जरूरी वस्तु सूची यानि इन्वेंटरी आइटम चुनें और मात्रा यानि क्वॉनिटी और दरें (रेट) दर्ज करें।

चरण 5

स्थानीय यानि लोकल बिक्री के लिए केंद्रीय और राज्य कर बही यानि सेंट्रल एंड स्टेट टैक्स लेजर का चयन करें। यदि बिक्री इन्टर स्टेट है, तो एकीकृत कर खाता (इंटीग्रेटेड टैक्स लेजर) बही का चयन करें।

चरण 6

अंत में हाँ पर क्लिक करें और बनाए गए GST इनवॉइस को स्वीकार करने के लिए एंटर करें।

इसी तरह स्थिति के आधार पर F12 का चयन करके GST सेवा शुल्क में अतिरिक्त जानकारी शामिल की जा सकती है: खरीदार का ऑर्डर नंबर, डिलीवरी नोट नंबर, अतिरिक्त उत्पाद विवरण यानि एडिशनल प्रोडक्ट डिस्क्रिप्शन, टैक्स कॉलम, जैसे आदि को कॉन्फ़िगर करें।

टैली जीएसटी इनवॉइस प्रिंटिंग

टैली में बिलिंग के बाद बिक्री वाउचर को स्वीकृति देने के बाद टैली तुरंत हीं प्रिंट या नहीं प्रश्न के साथ प्रिंटिंग सेटिंग्स स्क्रीन प्रदर्शित करेगा। यहाँ तक कि अगर आप प्रिंट किए बिना छोड़ देते हैं, तब भी आप वाउचर को संशोधन यानि अल्टरेशन मोड में पुनः प्राप्त कर सकते हैं या बिक्री वाउचर को सहेजने के तुरंत बाद पेज अप बटन दबा सकते हैं।

अब या तो प्रिंट बटन पर क्लिक करें या शॉर्टकट कुंजी Alt P दबाएं। कॉन्फ़िगरेशन स्क्रीन में आवश्यक कोई भी अतिरिक्त परिवर्तन करें। यहां आप प्रिंटिंग के लिए भेजी जाने वाली प्रतियों और प्रिंटरों की संख्या निर्दिष्ट कर सकते हैं। जीएसटी दिशानिर्देशों के अनुसार यदि आप ट्रांसपोर्टेशन के साथ सामान बेच रहे हैं तो आपको जीएसटी इनवॉइस की 3 प्रतियां बनानी होंगी: एक खरीददार के लिए, एक ट्रांसपोर्टर के लिए और एक खुद के लिए।

टैली इन्वाइस प्रिंटिंग कस्टमाइजेशन

टैली में अब इनवॉइसिंग के लिए अधिक कस्टमाइजेशन विकल्प हैं।

  • अधिकृत हस्ताक्षर के साथ सेल्स इनवॉइस का प्रिंटिंग।

यह ऐड-ऑन उपयोगकर्ताओं को पूर्व-सम्मिलित अधिकृत हस्ताक्षरों के साथ जीएसटी टैक्स इनवॉइस प्रिंट करने की अनुमति देता है।

             ई-वे बिल डिस्टेंस ऑटो-फिल

यह ऐड-ऑन उपयोगकर्ताओं को इस जानकारी को लेज़र मास्टर में सहेजने और ई-वे बिल में स्वतः भरने की अनुमति देता है। यह सुविधा डेटा को तेजी से बिना भूल के दर्ज करने में मदद करेगी।

  • GST टैक्स के लिए इनवॉइस 6.4 

इस ऐड-ऑन की मदद से कोई भी जीएसटी टैक्स इनवॉइस को कुशलता से प्रिंट कर सकता है। यह वस्तुओं की प्रत्येक आइटम के लिए जीएसटी दर और राशि प्रदर्शित करता है, ताकि खरीददार वस्तु पर लागू कर प्रतिशत और राशि को समझ सके।

  • किसी पार्टी के लिए स्टॉक आइटम का नवीनतम बिक्री मूल्य 1.9

इस तरह के ऐड ऑन के साथ आप पिछले बिक्री मूल्य और इनवॉइस के समय किसी विशिष्ट ग्राहक को स्टॉक आइटम के लिए दी गई सबसे हाल की छूट के बारे में जान सकते हैं। निम्नलिखित परिवेश पर विचार करें: एक व्यापारी ग्राहक A को ABC आइटम बेचता है। ग्राहक A दो महीने के बाद ABC को फिर से खरीदता है। जब कोई व्यापारी जीएसटी इनवॉइस रिकॉर्ड करने के लिए टैली ईआरपी सॉल्यूशन का उपयोग करता है, तो वह पिछले बिक्री मूल्य और छूट के बारे में जान सकता है।

  • प्रत्येक उत्पाद के लिए कुल कर राशि प्रिंट करें
  • उपयोगकर्ता उत्पाद के आधार पर कर की राशि प्रिंट कर सकते हैं।
  • ग्राहक के लिए इनवॉइस को समझना आसान है।
  • इस ऐड ऑन का उपयोग करना आसान है और आप इसे आसानी से टैली के लिए कॉन्फ़िगर कर सकते हैं।

जीएसटी इनवॉइस के अलावा, इनवॉइस की निम्नलिखित श्रेणियां हैं:

 बिल ऑफ सप्लाई टैली ERP 9 में जीएसटी इनवॉइस के समान है, सिवाय इसके कि इसमें कोई कर राशि शामिल नहीं है, क्योंकि विक्रेता को खरीदार से जीएसटी चार्ज करने की अनुमति नहीं है। ऐसे मामलों में जहाँ कर नहीं लगाया जा सकता है, वहाँ बिल ऑफ सप्लाई जारी किया जा सकता है:

 छूट प्राप्त वस्तुओं या सेवाओं को बेचने वाला एक पंजीकृत व्यक्ति और कंपोजिशन योजना के तहत एक पंजीकृत व्यक्ति।

 यदि कोई पंजीकृत व्यक्ति किसी अपंजीकृत व्यक्ति को कर योग्य और छूट प्राप्त वस्तुओं या सेवाओं दोनों की आपूर्ति करता है तो वह ऐसी सभी डिलीवरी के लिए सिंगल इनवॉइस कम बिल ऑफ सप्लाई जारी कर सकता है।

एक से अधिक चालानों को एक समग्र या एग्रीगेट इनवॉइस में संयोजित करना: यदि विभिन्न चालानों की कुल राशि ₹200 से कम है और खरीदार अपंजीकृत है तो विक्रेता दिन के अंत में एक से अधिक चालानों के लिए एक कुल दैनिक या थोक में इनवॉइस जारी कर सकता है।   

डेबिट और क्रेडिट नोट (Debit and credit notes)- जब आपूर्ति की गई वस्तुओं को वापस कर दिया जाता है, या सामान या सेवाओं के मानक के अनुसार नहीं होने के कारण 

या अतिरिक्त सामान जारी होने के कारण इनवॉइस मूल्य में संशोधन होता है, तो वस्तुओं और सेवाओं के आपूर्तिकर्ता और रिसीवर डेबिट नोट या क्रेडिट नोट जारी करते हैं। ध्यान दें यह निम्नलिखित दो स्थितियों में होता है: जब खरीदार द्वारा विक्रेता को भुगतान की जाने वाली राशि कम हो जाती है या जब खरीदार से विक्रेता को देय राशि बढ़ जाती है।

निष्कर्ष

एक बार जब आप पहला और सबसे महत्वपूर्ण कदम उठा लेते हैं, तो बाकी जीएसटी प्रक्रिया उचित इनवॉइसिंग के साथ अपेक्षाकृत आसान हो जाती है। टैली ERP 9 में बिलिंग पूरी तरह से स्वचालित एक स्टेप का समाधान है, जो अन्य बातों के अलावा यह सुनिश्चित करता है कि आपकी बिलिंग हमेशा वैधानिक GST इनवॉइस आवश्यकताओं का पालन करती है। यह सामान्य b2b (बिजनेस टू बिजनेस) इनवॉइस से रिवर्स चार्ज इनवॉइस को यह पूछकर अलग करता है कि क्या लेज़र मास्टर्स तैयार करते समय खरीदार एक पंजीकृत या अपंजीकृत डीलर है।

परिणामस्वरूप बिजनेस टू बिजनेस और बिजनेस टू कस्टमर इनवॉइस में अंतर करना आसान हो जाता है। टैली ERP 9 जीएसटी पोर्टल के समान फॉर्मैट में सभी इनवॉइस इनपुट फीड को जीएसटी रिटर्न में परिवर्तित करता है जिससे जीएसटी रिटर्न दाखिल करना आसान हो जाता है।

Biz Analyst देखें, जो एक सुरक्षित मोबाइल एप्लिकेशन है जहां आप आसानी से टैली ईआरपी 9 से अपने सभी व्यावसायिक डेटा को एकस्से कर सकते हैं।

पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

जब मैं प्रिंट करने का प्रयास कर रहा होता हूँ, तो टैली ERP 9 मुझे फाइल को सेव करने को कहता है, ऐसे में दस्तावेज़ को कैसे प्रिंट कर सकता हूँ?

ऐसा तब होता है, जब प्रिंट फॉर्मेट को डॉट मैट्रिक्स-टाइप फॉर्मेट या ड्राफ्ट फॉर्मेट पर सेट किया जाता है और एक फाइल को प्रिंट करना इनैबल किया जाता है। कंटेन्ट को सीधे प्रिंटर पर प्रिंट करने के लिए Alt P दबाएं या P क्लिक करें। Alt S दबाएं या S क्लिक करें: प्रिंटर चुनें, प्रिंट को फ़ाइल पर सेट करें और फिर आवश्यक प्रिंटर का चयन करें। टैली अब आपको आवश्यक सूचना प्रिंट करने की अनुमति देता है।

क्या मैं किसी रिपोर्ट के सम पृष्ठ यानि ईवेन पेज को प्रिंट कर सकता हूँ?

हाँ, आप किसी रिपोर्ट के सम पृष्ठ भी प्रिंट कर सकते हैं। प्रिंट करने के लिए P पर क्लिक करें या Alt P दबाएं फिर पेज रेंज को प्रिंट स्क्रीन पर लाने के लिए पेज नंबर पर क्लिक करें। पेज नंबरिंग स्टार्ट फ्रॉम फील्ड में और यहां तक ​​कि पेज रेंज फील्ड में 1 दर्ज करें। अब रिपोर्ट के सम पृष्ठ प्रिन्ट हो जाएंगे।

मैं एक पृष्ठ पर एका से अधिक बिक्री इनवॉइस या सेल्स इन्वाइस प्रिन्ट करना चाहता हूं, तो क्या मैं इसे टैली ERP 9 से कर सकता हूँ?

हाँ, एक पृष्ठ पर दो बिक्री इनवॉइस प्रिन्ट किए जा सकते हैं। प्रिंटर को कॉन्फ़िगर करने के लिए नीचे दिए गए निर्देशों का पालन करें:

  1. प्रिंट करने के लिए, उचित रिपोर्ट या लेज़र का चयन करें।
  2. प्रिंट पर क्लिक करें या Alt P दबाएं।
  3. S क्लिक करके प्रिंटर चुनें।
  4. प्रिंटरों की सूची में से आवश्यक प्रिंटर चुनें।
  5. प्रिंटर डॉक्यूमेंट प्रॉपर्टीज डायलॉग बॉक्स खुलता है।
  6. फिनिशिंग टैब चुनें।
  7. ड्रॉप-डाउन मेनू से पेपर साइज चुनें।
  8. प्रति शीट पेज 2 पर सेट होने चाहिए।
  9. OK बटन पर क्लिक करें।

एक ट्रांसपोर्टर जो GST के अंतर्गत है उसको किया गया नकद भुगतान जीएसटीआर-1 में दर्ज क्यों नहीं किया जाता है?

ट्रांसपोर्ट के लेन देन रिवर्स चार्ज के अंतर्गत आते है। आपूर्तिकर्ता उत्पादों को भेजने के लिए लागत वहन करता है। नकद भुगतान एक खरीद लेनदेन है, और खरीददारी GSTR 1 में दर्ज नहीं की जाती है। यह खरीद लेन-देन GSTR 3B खंड 3.1D में शामिल होता है।

क्या टैलीप्राइम में कई मूल यानि ऑरीजनल इनवॉइस के लिए एक संयुक्त डेबिट या क्रेडिट नोट रिकॉर्ड करना संभव है?

विभाग की साइट संयुक्त डेबिट या क्रेडिट नोटों के लिए एक्सेल फॉर्मैट का समर्थन नहीं करती है। यदि आप रिटर्न दाखिल करने के लिए टैली प्राइम का उपयोग करते हैं, तो प्रत्येक डेबिट या क्रेडिट नोट को केवल एक मूल इनवॉइस से जोड़ा जाना चाहिए। यदि आप टैली प्राइम का उपयोग केवल लेन-देन रिकॉर्ड करने के लिए करते हैं और रिटर्न दाखिल करने के लिए नहीं करते हैं तो आप कई मूल चालानों के लिए  डेबिट या क्रेडिट नोट दर्ज कर सकते हैं। आप कई मूल चालानों का डेटा मैन्युअल रूप से दर्ज कर सकते हैं, जिनके लिए साइट पर रिटर्न भरते समय डेबिट या क्रेडिट नोट दर्ज किए गए थे।

Related Posts

None

टैली ईआरपी 9 में बैंक रिकॉन्सिलिएशन क्या है?


None

टैली ईआरपी 9 में कॉस्ट सेंटर के बारे में जाने


None

टैली ERP 9 में कंपनी कैसे बनाएँ?


None

टैली ईआरपी 9 में लेजर कैसे बनाएं?


None

टैली ईआरपी 9 में सभी वाउचर के बारे में


None

टैली प्राइम में शॉर्टकट कुंजियाँ


None

टेली ईआरपी 9: यह क्या है और मैं इसका उपयोग कैसे कर सकता हूँ?


None

टैली ईआरपी 9 में जीएसटी का उपयोग कैसे करें?


None

टैली में जर्नल वाउचर- उदाहरण, और टैली में जर्नल वाउचर कैसे दर्ज करें?